Category Archives: ●सहरसा.

सहरसा : पूर्व विधायक द्वारा खरीद की गई जमीन विवाद के विरोध में नखबाल

आश्रम जमीन विवाद प्रकरण : नखबाल कार्यक्रम आयोजित

विरोध में आज होगा सम्पींडन व दरिद्र नारायण भोज

सिमरी बख्तियारपुर(सहरसा) से ब्रजेश भारती की रिपोर्ट :-

प्रखंड के बलवाहाट स्थित बापू सेवा आश्रम सह बलवाहाट ओपी जमीन विवाद प्रकरण में नित्य प्रति दिन विरोध चौथे दिन भी जारी हैं।

पूर्व प्रायोजित कार्यक्रम के तहत बलवाहाट के धरहड़ा चौक पर संघर्ष समिति के बैनर तले उपस्थित नेताओं ने विरोध स्वरूप नखबाल करवा जमीन बेचने वाले अशोक सिन्हा,पूर्व विधायक अरूण यादव व प्रशासन विरोधी जमकर नारेबाजी किया।

भाजपा नेता एस कुमार के नेतृत्व में शुक्रवार को हुये कार्यक्रम बाद कांग्रेस के पूर्व प्रखण्ड अध्यक्ष लक्ष्मीकांत ने कहा कि जिस तरह बापू की हत्या नाथूराम गोडसे ने छल पूर्वक किया ठीक उसी तरह बापू सेवा आश्रम की जमीन खरीद पूर्व विधायक ने बापू के आदर्शों की हत्या किया है। 

कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहें एस कुमार ने कहा कि शनिवार को सम्पीडन कार्यक्रम बाद दरिद्र नारायण भोज विरोध स्वरूप किया जायेगा। यह विरोध कार्यक्रम निरंतर आगे भी जारी रहेगा। उन्होनें ने कहा कि कुल लोग समाज सेवा को रूपया व धन कमाने के लिये करता है जो गलत है।

वही भाजपा नेता अजय कुमार सिंह ने कहा कि कुल लोग भाजपा/ एनडीए में फुट डालने का प्रयास कर रहें हैं वैसे लोगों को समझ लेना चाहिये की इस विवाद के संबंध पार्टी के वरीय अधिकारीयों से बातचीत की जा चुकी है। पुरा विरोध कार्यक्रम वरीय अधिकारीयों के संज्ञान में दिया जा रहा हैं। उन्होनें वैसे लोगों को चेतावनी भरे शब्दों में कहा पार्टी का कोई भी व्यक्ति गाईडलाईन को तोड़ने का प्रयास नही करें नही तो पार्टी ऐसे लोगो पर अनुशासत्मक कार्यवाही करने को मजबुर होगी।

इस अवसर पर राधाकांत सिंह,मुकेश यादव,इन्द्रदेव यादव,विजय यादव,सज्जन मुखिया,शिबू राम,शिबन पौद्दार,रविन्द्र पौद्दार,सुरेश शर्मा,जगदीश मिस्त्री,संजय यादव,मो ईब्राहीम,रामकरण साह,मो बादल,योगेन्द्र साह,गजेन्द्र चौधरी सहित अन्य लोगों मौजूद रहें।

सहरसा : पूर्व विधायक का किया गया पुतला दहन

ओपी सहित विवादित जमीन पर प्रशासन ने लगाया धारा 144

आज होगा नखबाल,अनवरत आन्दोलन जारी

सिमरी बख्तियारपुर(सहरसा) ब्रजेश भारती की रिपोर्ट :-

प्रखंड के बलवाहाट स्थित बापू सेवा आश्रम सह बलवाहाट ओपी जमीन विवाद प्रकरण का विरोध प्रतिदिन जारी हैं।

गुरूवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत प्रखंड के चपरांव चौक पर बापू सेवा आश्रम बचाओं संघर्ष समिति के तत्वाधान में पूर्व विधायक अरुण कुमार यादव का पुतला दहन कर जमकर नारेबाजी किया गया। पूर्व राजद प्रखण्ड अध्यक्ष हीरा यादव के नेतृत्व में आयोजित पुतला दहन कार्यक्रम के बाद वक्ताओं ने कहां कि जमीन बचाओं संघर्ष इसी तरह नित्य प्रतिदिन जारी रहेगा और आन्दोलन तब तक जारी रहेगा जब तक की जमीन की कायम की गई जमाबंदी रद्द कर उस पर बापू की प्रतिमा ना बन जाय।

पुतला अग्नि प्रदान करते हुये भाजपा नेता एस कुमार व अजय कुमार सिंह ने कहा कि पूर्व विधायक अरुण कुमार यादव ने जमीन खरीद कर वो काम किया है जिसका जबाब यहां की जनता को देना होगा। वे स्वंय उस जमीन पर बापू की प्रतिमा स्थापित करें उस दिन हमलोग फुलों की माला से लादकर उसका स्वागत कर सर आंखो पर बैठाने का काम करेंगें। संधर्ष समिति ने कहा कि आज पुतला दहन बाद नखबाल कार्यक्रम किया जायेगा। फिर सम्पींडन उसके बाद प्रायोजित कार्यक्रम के तहत संधर्ष अनवरत जारी रहेगा।

पुतला दहन कार्यक्रम में शिवब्रत सिंह,कुमार आनंद,कृष्णा सिंह,मधुसूदन सिंह,मनीष कुमार,मधु कुमार,सूरज कुमार,शिवेन्द्र कुमार,अरूण यादव,सुनिल गुप्ता,राजा कुमार,रंधीर कुमार,शुभंकर शर्मा,बमबम गुप्ता,टुनटुन कुमार,शिबू राय,संतोष कुमार,कृष्ण कन्हैया,सुदिन यादव,मो इसरायल आदि मौजूद रहें।

सहरसा : पूर्व विधायक द्वारा खरीद की गई जमीन मामले को लेकर हुआ महाधरना

बापू सेवा आश्रम सह बलवाहाट ओपी विवादित जमीन को लेकर एक मंच पर हुआ राजद,कांग्रेस,भाजपा

सर्वदलीय नेताओं ने जमीन बचाओं संघर्ष को दिया व्यापक रूप

किसी भी सुरत में जमीन को वापस करना होगा : संघर्ष समिति

सिमरी बख्तियारपुर(सहरसा) से दैनिक खोज खबर के लिये प्रबंध संपादक ब्रजेश भारती की रिपोर्ट :-

अनुमंडल क्षेत्र के बलवाहाट स्थित बापू सेवा आश्रम सह बलवाहाट ओपी विवादित जमीन मामला अब धीरे धीरे जनसंघर्ष का रूप लेने लगी हैं। जमीन को बचाने के लिये आन्दोलन की शुरूआत होने के साथ इस संघर्ष को व्यापक रूप देने की भी रणनिति तैयार की गई हैं।

धरना को संबोधित करते कांग्रेस जिलाध्यक्ष

बुधवार को बापू सेवा आश्रम बचाओ संघर्ष समिति के तत्वाधान में धर्मू चौक स्थित बगीचा में एक दिवसीय घरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया। 

जिसमें सर्वदलीय जनप्रतिनिधीयों व क्षेत्र के सैकड़ों ग्रामीणों ने भाग लिया।राजद जिलाध्यक्ष जफर आलम की अध्यक्षता व भाजपा नेता एस कुमार के संचालन में आयोजित की गई।

धरना को संबोधित करते भाजपा नेता अरविंद सिंह

वहीं इस घरना को संबोधन में राजद जिलाध्यक्ष जफर आलम , कांग्रेस के जिलाध्यक्ष विद्यानंद मिस्श्र , भाजपा नेता अरविन्द कुमार सिंह , रितेश रंजन , प्रवीण आनंद ने एक स्वर में पूर्व विधायक का यह ब्यान कि जमीन कागजात से होता है को खारिज करते हूये कहा कि बापू सेवा आश्रम की जमीन का कागजात स्थानिय प्रशासन खोजे क्योकि किसी भी सार्वजनिक व सरकारी जमीन व सम्पति की रखवाली उनका काम हैं।

सिमरी बख्तियारपुर का एक-एक बच्चा व बूर्जूग जानता है कि वह जमीन बापू सेवा आश्रम की है जिस पर वर्षो से बलवाहाट ओपी संचालित हैं। ऐसे किसी भी व्यक्ति विशेष द्वारा रजिष्ट्री करवा कब्जा जमाना असंभव हैं।

भाजपा नेता रितेश रंजन

सभी वक्ताओं ने कहां कि स्थानिय प्रशासन की मिलीभगत से पूर्व विधायक अपने कार्यकाल में ही इस कारगुजारी को अंजाम दिया है जबकि बापू सेवा आश्रम जो अजादी से पूर्व की है यह हमारी धरोहर है।

यहॉ के सम्मानित विधायक रहें अरूण यादव ने अपने पांच वर्षो के  कार्यकाल में ही इस आश्रम की जमीन पर गिद्ध दृष्टि डाल रजिष्ट्री करवाने का काम किया। इसका जबाव उन्हें यहॉ की जनता को देना होगा और किसी भी कागजात से हमें कोई फर्क नहीं पड़ने वाला यह बापू सेवा आश्रम की जमीन थी है और रहेगी।

वही मंच से ही इस आन्दोलन को आगे बढ़ाते हुये व्यापक संघर्ष का रूप दिया गया जिसमें गुरूवार को चपरांव चौक पर पूर्व विधायक व प्रशासन का पुतला दहन कार्यक्रम किया जायेगा।

वही शुक्रवार को कारूबाबा स्थान धरहड़ा चौक पर एवं शनिवार को पंचमुखी मंदिर सरौंजा के प्रांगण में सम्पीडन कार्यक्रम आयोजित की जायेगी।

वही 20 तारिख को सिमरी बख्तियारपुर स्टेशन चौक से दिन के 11 बजे बापू सेवा आश्रम बचाओं संघर्ष समिति के तत्वाधान में मार्च निकाल अनुमंडल मुख्यालय तक पहुंच प्रशासन को स्मार पत्र सौंपा जायेगा।

आज के कार्यक्रम में राजद जिलाध्यक्ष जफर आलम, कांग्रेस जिलाध्यक्ष विद्यानंद मिश्र, भाजपा नेता रितेश रंजन, भाजपा नेता प्रवीण आनंद, भाजपा नेता अरबिंद सिंह, भाजपा नेता अजय सिंह, भाजपा नेता शिवेंद्र कुमार सिंह उर्फ एस कुमार, राजद प्रखंड अध्यक्ष हेलाल अशरफ, कांग्रेस नेता महबूब आलम, सीपीआई के मजदूर यूनियन अध्यक्ष सज्जन मुखिया, कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष इम्तियाज अंजुम, राजद नेता रणवीर यादव, नौशाद आलम,गोपाल शर्मा,कुमार आनंद,राजकिशोर सिंह,ल लक्ष्मीकांत शर्मा,ललन यादव,मुकेश यादव,मुकेश भगत,निर्मल ठाकुर, सहित अन्य शामिल थे।

विवादित जमीन

यहां बताते चले कि बलवाहाट स्थित ओपी सहित दोनो ओर की खाली जमीन पर पूर्व विधायक के द्वारा पीलर डाल धेराबंदी व मिट्टी भराई से आक्रोशित विभिन्न दलों के जनप्रतिनिधीयों ने रविवार ओपी का घेराव कर जमकर नारेबाजी करते हुये बबाल काटा। प्रदर्शन कर रहें जनप्रतिनिधीयों का कहना था कि जान बुझ कर एक साजिस के तहत पूर्व विधायक अरुण कुमार यादव ने उक्त जमीन का केवाला करवा अधिकारीयों की मिलीभगत कर जमीन का जमाबंदी कायम करवा रसीद कटवा अब जमीन पर कब्जा करने की नियत से पीलर डाल धेराबंदी कर मिट्टी भराई कार्य व खेतीबारी शुरू कर दिया है।

सहरसा : बख्तियारपुर पुलिस की बड़ी सफलता,लूटकांड का मास्टर माईन्ड गिरफ्तार

गल्ला व्ययसायी लूट कांड का पुलिस ने किया उद्भेदन

दो शातिर अपराधी सहित लूट की नगदी बरामद व लूट में शामिल बाईक जप्त

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) ब्रजेश भारती की रिपोर्ट :-

गिरफ्तार शातिर के साथ डीएसपी व थानाध्यक्ष

बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के एनएच 107 रंगिनिया चौक के समीप दो दिन पूर्व सोमवार की देर शाम गल्ला व्ययसायी से हुई लूट कांड का पुलिस ने उद्भेदन करने में सफलता प्राप्त कर ली है। 

पुलिस ने लूट की घटना को अंजाम देने वाले दो अपराधी लूट में प्रयुक्त अपाची बाईक व नगदी 19 हजार सहित व्यवसायी का लूटा हुआ गल्ला भी बरामद किया है। दो गिरफ्तार शातिर अपराधी राजू सिंह व छोटू सिंह बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के ऐनी गांव का रहने वाला हैं। जिनमें एक छोटू सिंह जिस पर आधा दर्जन अपराधीक मामले दर्ज हैं।

जप्त अपाची बाईक

डीएसपी अजय नारायण यादव ने बख्तियारपुर थाना में आयोजित प्रेसवार्ता में बताया कि रंगिनिया चौक पर हुई लूट की घटना पुलिस के लिये चुनौती बन गई थी। पुलिस ने बख्तियारपुर थानाध्यक्ष रणबीर कुमार के नेतृत्व में सर्किल व अन्य थानों के थानाध्यक्ष के रूप में गठीत कर छापेमारी अभियान की शुरूआत की गई। मंगलवार की रात्रि पुलिस ने विभिन्न स्थानों पर गुप्त सुचना के आधार पर छापेमारी की।पुलिस को पहली सफलता बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के ऐनी गांव से प्राप्त हुई। यहां से दो शातिर अपराधी राजू सिंह व छोटू सिंह को गिरफ्तार कर मामले की छानबीन शुरू किया गया तो सबसे पहले एकपढ़हा गांव स्थित एक आम के बगीचा से व्यवसायी का लूटा गल्ला बरामद किया।

बरामद नगदी व मोबाईल

डीएसपी ने बताया कि दोनो गिरफ्तार आरोपी ने अपना अपराध कबूल किया है इन लोगो के पास से लूट की 19 हजार रूपये बरामद किया। उन्होनें ने कहा कि इस लूट की घटना में कुल पांच अपराधी शामिल है बाकी अपराधी की पहचान कर ली गई है जल्द वे लोग भी सलाखों के पीछे रहेंगे।

यहां बताते चले कि सोमवार की देर शाम मोटरसाईकिल सवार हथियार बंद अपराधीयों नें एनएच 107 रंगिनिया चौक स्थित एक गल्ला व्ययसायी के दुकान पर धाबा बोल गोली चला लूट की घटना को अंजाम दिया था हलांकि उस वक्त ढ़ेड लाख रूपये की लूट की खबर सामने आ रही थी। लेकिन लूट की घटना मात्र 45 हजार रूपये की ही हुई थी।

सहरसा : सिमरी बख्तियारपुर में अब बिकने लगी स्कुल,थानें की जमीन

बलवाहाट ओपी सह बापू सेवा आश्रम की जमीन धेराबंदी व मिट्टी कार्य पर हुआ बबाल

सर्वदलीय बैठक कर प्रतिनिधियों ने पूर्व विधायक पर जमीन अबैध रूप से रजिष्ट्री करवा लेने का लगाया आरोप

आक्रोशित जनप्रतिनिधीयों ने बलवाहाट ओपी पर प्रर्दशन कर काटा बबाल

सिमरी बख्तियारपुर(सहरसा) ब्रजेश भारती की रिपोर्ट :-

बलवाहाट ओपी की सेवा आश्रय की जमीन

बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के बलवाहाट स्थित ओपी सहित दोनो ओर की खाली जमीन पर पूर्व विधायक के द्वारा पीलर डाल धेराबंदी व मिट्टी भराई से आक्रोशित विभिन्न दलों के जनप्रतिनिधीयों ने रविवार ओपी का घेराव कर जमकर नारेबाजी करते हुये बबाल काटा। प्रदर्शन कर रहें जनप्रतिनिधीयों का कहना था कि जान बुझ कर एक साजिस के तहत पूर्व विधायक अरुण कुमार यादव ने उक्त जमीन का केवाला करवा अधिकारीयों की मिलीभगत कर जमीन का जमाबंदी कायम करवा रसीद कटवा अब जमीन पर कब्जा करने की नियत से पीलर डाल धेराबंदी कर मिट्टी भराई कार्य व खेतीबारी शुरू कर दिया है।

डीएसपी से वार्ता करते सर्वदलीय नेताओं का शिष्टमंडल

इनलोगो का कहना है कि 29 जून 1943 ई में तत्कालीन जमींदारी ने 12 आना के टिकट सटे पेपर पर परवानी के माध्यम से बापू सेवा आश्रय के नाम पर तत्कालीन आश्रम के केयर टेकर तेघरा निवासी राम शरण प्रसाद को प्रवानगि निर्गत किया गया था।

आश्रम बचाओं का बैनर

उस जमीन पर वर्षो तक चरखा से सुट काटने व झंडोत्तोलन का कार्य किया जा रहा हैं। पच्चीस वर्षो से ओपी वहां चल रही हैं जो सर्वविदित है। पूर्व विधायक अरुण कुमार यादव ने अपने प्रभाव का गलत फायदा उठा उक्त जमीन की रजिष्ट्री करवा जमाबंदी कायम कर अब हरपने की मंसा से ये किया है। जो हमलोग नही होने देंगे।

बैठक करते सर्वदलीय नेता

प्रदर्शन की सुचना पर डीएसपी सिमरी बख्तियारपुर अजय नारायण यादव ओपी पहुंच जनप्रतिनिधीयों के शिष्टमंडल से मिल पुरी मामले की जानकारी ले तत्काल काम पर रोक लगाने का आश्वासन देने पर सभी लोग माने।

ओपी पर प्रदर्शन करते नेतागण

इससे पूर्व धरहरा चौक स्थित कारू बाबा स्थान प्रागंण में एक सर्वदलीय जनप्रतिनिधीयों व ग्रामीणों की बैठक की गई जिसकी अध्यक्षता पूर्व जिप उपाध्यक्ष सह भाजपा नेता रितेश रंजन व संचालन एस कुमार ने किया । 

बैठक में सर्वसम्मति से बापू सेवा

 आश्रम बचाओ संघर्ष समिति का गठन करते हूये एक स्वर में बलवाहाट धरहरा चौक स्थित बापू सेवा आश्रम जो अजादी से पूर्व है यह हमारी धरोहर है जिसे पूर्व विधायक डा अरूण कुमार अपने पत्नी के नाम से दबंगई से लिखावा लिया और बलपूर्वक स्थानिय प्रशासन के सहयोग कब्जा कर लिया है हम सर्वप्रथम उक्त जमीन पर हो रहें कार्य पर रोक की मांग करते हैं और कहा कि हमलोग इस मामले को लेकर जिलाधिकारी से मिलकर इस धरोहर को बचाने हेतु इससे अवगत कराकर उचित करते हूये एक कमिटि का गठन कर दुध का दुध पानी का पानी कर जमाबंदी खारिज करने की मांग करेंगें और इसका मामले को लेकर 23 दिसम्बर को बापू सेवा आश्रम प्रागंण में एक दिवसीय घरना प्रदर्शन करेंगें।

हलांकि उपरोक्त मामले पर जब पूर्व विधायक से पुछा गया तो उनका कहना है कि कोई भी जमीन कागजात से होता है ना की राजनेतिक से। एक साजिस के तहत कुछ लोग इस मामले को तुल देना चाहते है जो गलत है। अगर बापू सेवा आश्रय के नाम कोई कागजात है तो दिखावे।बेवजह मामले को हवा देने का काम नही करें। मैने जमीन अपनी पत्नी के नाम केवाला से प्राप्त किया है। जिसका जमाबंदी व अद्धतन लगान रसीद है।

खाली जमीन पर मिट्टी भराई करते ट्रेक्टर

वहीं इस बैठक में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष विद्यानंद मिस्श्र , राजद के जिलाध्यक्ष जफर आलम , भाजपा नेता अरविन्द कुमार सिंह, राधाकांत सिंह  , राजद प्रखंड अध्यक्ष सैयद हैलाल अशरफ , कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष इम्तियाज अंजूम , सीपीआई के सज्जन मुखिया ,राजद युवा अध्यक्ष रणवीर यादव , अजय कुमार सिंह ,विजय कुमार यादव ,लक्ष्मीकांत शर्मा ,हीरा यादव ,महबूव आलम ,नौशाद आलम , मुकेश यादव ,नईम साहब ,अजय यादव सहित सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहें ।

सहरसा : +2 हाई स्कुल जमीन विवाद का ढ़ाई वर्षो बाद भी नही हुआ निपटारा

रिपोर्ट में छेड़छाड़ व गलत दखल कब्जा की रिपोर्ट करने वाले राजस्व कर्मचारी पर नही हुई ठोस कार्यवाही

जदयू नेता सह वार्ड पार्षद ने सीएम से मिलकर पुरे मामले से कराया अवगत

सिमरी बख्तियारपूर(सहरसा) से दैनिक खोज खबर के लिये प्रबंध संपादक ब्रजेश भारती की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट :-

प्रखंड के नगर पंचायत स्थित +2 उच्च विद्यालय सिमरी बख्तियारपुर विवादित जमीन मामले का ढ़ाई वर्षो बाद भी अबतक निपटारा नही हुआ है।

प्रशासनिक सुस्ती व विभागीय झोल की वजह से यह मामला समय-समय पर चर्चा में आता हैं फिर ठंडे बस्ते में डाल दी जाती है। कोई ठोस निर्णय नही होने से नगर वासियों में आक्रोश देखा जा रहा हैं वही इस मामले को लेकर वर्तमान में जदयू नेता वार्ड पार्षद सह विद्यालय प्रबंध समिति सदस्य चन्द्र मणी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिल सारी बातों से अबगत कराते हुये दोषी पर कार्यवाही करने की मांग की हैं।

उच्च विद्यालय

जदयू नेता ने प्रशासनि पदाधिकारीयों पर आरोप लगाते हुये कहा कि भू- माफियाओं के साथ मिलीभगत कर विद्यालय की सरकारी जमीन को निजी व्यक्ति के नाम रजिष्ट्री कर उसका गलत जमाबंदी विद्यालय प्रधान के आपत्ति दर्ज करवाने के बाद भी कर्मीयों व पदाधिकारी को मेल में लेकर कर दिया है। उन्होनें कहा कि कई साक्ष्यों के साथ आपत्ति आवेदन देने के बावजूद कोठ कार्यवाही इस मामले को लेकर नही किया जा रहा हैं जो बहुत ही खेद का विषय हैं। उन्होनें ने कहा कि मुख्यमंत्री ने जिला कमिटी से स्वच्छ जांच कराने का आश्वासन दिया है।

क्या हैं मामला –

विद्यालय के पूर्वी दक्षिणी मैदान छोड़ पोखर के समीप विवादित जमीन कुल तीन कट्टा जमीन का प्लाट है जो मैदान के साथ लगा है। यह जमीन सन 1902 में बनें खतियान किशनी तियर के नाम से चल रहा हैं। जिसका खाता पुराना 49 खेसरा 4295 रकवा 3 कट्टा हैं। उक्त जमीन को खतियानी रैयत किशनी तियर ने सन 18 मार्च 1939 को खड़गधारी सिंह के नाम केवाला संख्या 666 के माध्यम से बेच दिया।
कहा जा रहा हैं कि खड़गधारी सिंह ने उक्त जमीन विद्यालय को दानस्वरूप दें दिया। लेकिन खड़गधारी सिंह ने उस जमीन को सरकारी रजिष्ट्री उस वक्त नही किया ना ही उक्त जमीन की कोई जमाबंदी कायम करवा लगान रसीद ही कटवाये चुकि उस वक्त उन्होनें उस जमीन को विद्यालय को दे दिया था।

विवादित जमीन

वही जमीन से जुड़े जानकार का कहना है कि चुकिं खड़गधारी सिंह ने सिर्फ एक पेपर पर विद्यालय को दानस्वरूप देने की बात लिखी ना कि सरकारी रजिष्ट्री साथ ही विद्यालय ने उक्त जमीन का जमाबंदी ही कायम करवाया जिसकी वजह से वह जमीन जमींदारी प्रथा खत्म होने के समय सरकार को दिये गये रिटर्न में उपरोक्त जमीन खतियानी रैयत किशनी तियर के चार पुत्रों में से एक पुत्र झकस तियर के पुत्र पुत्र यानी किशनी तियर के पौता धुरन चौधरी के नाम दाखिल हुआ जिसका बकायदा जमाबंदी संख्या 29 कायम हो अद्धतन है। धुरन चौधरी की पुत्री ने उक्त जमीन को सन 31 दिसंबर 14 को राजेश चौधरी की पत्नी रागिनी देवी देवी के नाम 13 डीसमल रजिष्ट्री कर बेच दिया।

नोट फाईनल सर्वे – 

हाल सर्वे खतियान की बात करें तो यह जमीन बिहार सरकार के नाम दर्ज है। चुकि इस वक्त हाल सर्वे खतियान नोट फाईनल की सुची में है इसलिये इस मामले पर कुछ भी निर्णय नही लिया जाता है।

रजिष्ट्री के बाद जमाबंदी कायम के समय खुला यह मामला-

रजिष्ट्री के बाद खरीददार रागिनी देवी ने उक्त जमीन की जमाबंदी कायम करवाने के लिये जैसे ही अंचल में आवेदन की मामला सामने आ गया। तत्कालीन प्राचार्य विद्यापति झा ने 23 जनवरी 15 को उक्त जमीन की जमाबंदी कायम करने पर आपत्ति दाखिल कर दिया। लेकिन राजस्व कर्मचारी हेमंत कुमार ने आपत्ति को नजर अंदाज रिपोर्ट खरीददार रागिनी देवी के पक्ष में दे दिया जिसके आधार पर तत्कालीन अंचलाधिकारी रामेश्वर सिंह ने 26 फरवरी 15 को जमाबंदी कायम कर लगान रसीद काटने का आदेश निर्गत कर दिया।

एसडीओ ने सीओ से मांगी रिपोर्ट- 

जब इस जमीन का जमाबंदी कायम हो गया तो एसडीओ के संज्ञान में मामला जाने के बाद 8 जुलाई 16 को उन्होनें अंचलाधिकारी को पत्र भेजकर 24 घंटे के अंदर जांच प्रतिवेदन देने का निर्देश दिया था। सीओ ने जो जांच प्रतिवेदन समर्पित किया उसमें कई दोष पाये गये जिनमें अभिलेख में छेड़छाड़ व गलत दखल कब्जा खरीददार के नाम होने की बात सामने आई जिस पर उन्होनें ने उक्त राजस्व कर्मचारी हेमंत कुमार पर प्रपत्र क गठीत कर कार्यवाही सहित कायम जमाबंदी को रद्द करने की दिशा पर कार्यवाही करने का आदेश दिया।

करीब ढ़ाई वर्षो बाद आज भी ना तो जमाबंदी रद्द ना ही कर्मचारी पर कोई ठोस कार्यवाही हुई इस बीच उक्त कर्मी का तबादला सौरबाजार अंचल हो गया।

जमीन को लेकर व्यवसायिक हुआ एकजुट – 

उक्त जमीन को लेकर सिमरी बख्तियारपूर में कई बार व्यवसायिकों ने बैठक इस मामले पर गहन विचार विमर्श कर भूमाफियों के विरूद्ध अभियान चलाने का निर्णय ले बोला गया स्कूल एक सार्वजनिक स्थल है। जिसमे हर किसी का बच्चा पढ़ता है। व्यवसायी ने कहा कि लोग देवी के मंदिर को जमीन दान में देते है, एक वो है जो विद्या की देवी की मंदिर पर गलत नजर लगाए है।

सहरसा : विपिन गुप्ता बनें मंत्री सह विधायक नगर प्रतिनिधि

वर्षो तक राजद में रहने के बाद जदयू का दामन थामें
सिमरी बख्तियारपुर(सहरसा) ब्रजेश भारती की रिपोर्ट :-

बिहार सरकार के लघु जल संसाधन एवं आपदा प्रबंधन मंत्री दिनेश चंद्र यादव ने सिमरी बख्तियारपुर मुख्य बाजार निवासी विपिन कुमार को सिमरी नगर पंचायत के नगर प्रतिनिधि के रूप में नियक्त किया है।

वे अब मंत्री सह विधायक प्रतिनिधि के रूप में विभिन्न कार्यक्रमों सहित बैठक में शामिल होंगे।

इस मौके पर विपिन कुमार ने कहा कि सुशासन की सरकार हमेशा से विकास की ओर अग्रसर रही है।उन्होंने कहा कि आने वाले वक्त सिमरी बख्तियारपुर नगर पंचायत बिहार का नंबर एक नगर पंचायत बने बस यही कामना है। सरकार नगर पंचायत क्षेत्र के विकास के लिये कृतसंक्लपित है।

यहां बताते चले कि वर्षो तक श्री गुप्ता राजद नेता के रूप में पार्टी को मजबूती प्रदान करने का काम किया।सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड राजद अध्यक्ष के साथ संगठन के विभिन्न पदों पर वर्षो तक रहें। कुछ समय पूर्व राजद से अलग हो स्थानिय विधायक दिनेश चन्द्र यादव के मार्ग दर्शन में जदयू का दामन थाम लिये।

इनकी पत्नी सीमा कुमारी गुप्ता नगर पंचायत सिमरी बख्तियारपुर की नगर अध्यक्ष के रूप में पांच वर्षो तक विद्यमान रही।

नगर प्रतिनिधि बनने पर पूर्व विधायक अरुण कुमार यादव, जदयू जिलाध्यक्ष चंद्रदेव मुखिया, चन्देश्वरी यादव, अंजुम हुसैन, राहुनंदन सिंह, सीमा गुप्ता, चंदन ठाकुर, शिव चंद्र यादव, हेमंत गुप्ता, डॉ विमल कुमार, विजय गुप्ता, सचिन साह, शंभु साह, चन्द्र बसु, संजीव गुप्ता सहित अन्य ने बधाई दी है।

« Older Entries