Category Archives: ●कटिहार

मधेपुरा:चौसा में स्वच्छता का संदेश महज जागरूक रैली, अभियानों तक सिमट कर रह गया

दैनिक खोज खबर के लिए ​फुलौत,मधेपुरा से अनिल मोदी की रिपोर्ट

स्वच्छता का संदेश महज जागरूक रैली, अभियानों तक सिमट कर रह गया है। प्रशासन और  प्रतिनिधि  समय-समय पर स्वच्छता को लेकर अभियान चलाता है, लेकिन यह नियमित रूप से होने से स्वच्छता का संदेश देने तक ही अभियान रह जाते हैं। सफाई व्यवस्था बाजार  में बेहतर होने के कारण जगह-जगह पर  गंदगी के अंबार लगने लगे हैं। मस्जिद  के पास,  दुर्गा स्थान  के पास व  कन्या विद्यालय के पास  कूड़े के ढेरों से राहगीरों के साथ-साथ यहां रहने वाले लोगों व  स्कुलों में पढ़ने वाले  बच्चे  को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 

इन सभी जगहों के साथ  और भी कई  जगहों पर  कूड़े के अंबार लगे रहते हैं। बार-बार ख़बर लिखने के बाद भी इन जगहों का साफ़ सफ़ाई नही होता। यहां पर कूड़ा-कर्कट में पॉलीथिन होने से ये तेज हवा चलने पर घरों और दूकानों  में उड़कर चले जाते हैं व काफ़ी दुर्गंध भी करता है । नियमित रूप से सफाई होने के साथ यहां पर कूड़ा-कर्कट भी उठना चाहिए। वहीं लोगों का कहना है कि सफाई व्यवस्था बेहतर हो, इसके लिए बाजारों में कूड़ेदान की होना बहुत जरूरी है l बाजारों में कूड़ेदान का नही होने से कचड़ा रोड पर जामा रहता है l बाजारों में कूड़ेदान लगाया जाना चाहिये  ताकि स्वच्छता का संदेश देने वाले अभियानों के बाद स्वच्छता नजर भी आए। ऐसा नहीं है कि यह कोई नई समस्या है, बल्कि कई सालों  से यह समस्या निरंतर चली आ  रही है। कभी कभी  कूड़ा-कर्कट उठा दिया जाता है, लेकिन कुछ दिनों के बाद फिर से यह समस्या होने लग जाती है। विभाग  को  चाहिए कि नियमित रूप से सफाई को लेकर पुख्ता प्रबंध करे  ताकि बाजार  में सफाई नजर आए। इस  बाजार में  स्वच्छता  अभियान का सेल्फी बराबर देखा जाता है।

सफ़ाई उस  के हिसाब से बहुत  कम हैं। जितने सफाई अभियान में जुड़े हैं उनसे बेहतर सफाई व्यवस्था बनाने का प्रयास किया जाता है। लोग भी सफाई में सहयोग दें।  कूड़ा-कर्कट को गाँव के बाहर  खुले में डालें और विभाग को चाहिए कि बाजार में कूड़ेदान लगायें जिससे की  दुकानदार लोग  कूड़े को सड़कों पर जामा करने के बजाय कूड़ेदान में  डाले l

​कटिहार:-अनियंत्रित ट्रक ने किसान को कुचला,मौके पर हुई मौत

दैनिक खोज खबर के लिए कटिहार से रूपेश कुमार की रिपोर्ट

कटिहार जिले के फलका थाना क्षेत्र के गोविंदपुर पंचायत के स्टेट हाईवे77 पर  रंगाकोल स्कूल समीप ट्रक के चपेट में आने से एक युवक की मौत मौके पर हो गई। गौरतलब हो कि रंगाकोल निवासी चमक लाल मंडल का पुत्र विकास मंडल(35)वर्ष साइकिल से मजदूरों का खाना लेकर कामत जा रहा था कि कुर्सेला की ओर से तेज गति से आ रही छड़ लदा ट्रक डब्ल्यू बी37बी6930 ने साइकिल सवार को घसीटते हुए कुचल दिया। जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। 
सूचना पाकर फलका थानाध्यक्ष सदाबुल हक अपने दल-बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचा। ग्रामीणों के सहयोग से टैक्टर एवं किरान लगाकर ट्रक को हटाया तथा मृतक को अंदर से निकाला गया। मामले की जानकारी लेते हुए शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए कटिहार सदर अस्पताल भिजवाया। 

ग्रामीणों के सहयोग से पुलिस ड्राइवर खलासी को पकड़ कर थाना ले आई। आक्रोशित लोगों ने स्टेट हाईवे77 कुर्सेला-फलका को दो घंटा जाम कर दिया। कोढ़ा इंस्पेक्टर, थाना अध्यक्ष सदाबुल हक, मुखिया प्रतिनिधि परमानंद शर्मा, समिति सदस्य मनोज मंडल, सरपंच प्रतिनिधि सदानंद मंडल, पंचायत समिति प्रतिनिधि मंटू यादव आदि ने मृतक के परिजनों को मुआवजा दिलाए जाने का आश्वासन दिया। तब कही जाकर ग्रामीणों ने जाम खोला। 

मृतक ने अपने पीछे पत्नी कंचन देवी व दो बेटी तथा एक बेटा को छोड़ गए। चांदनी कुमारी(8), नन्दनी कुमारी(6), सोनू कुमार (14) के लालन-पालन की चिंता को लेकर परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। पति के खोने का गम में कंचन बेहोश हो रही थी। अपने तीन बच्चों के लालन-पालन की चिंता सता रही है।

​मधेपुरा :-बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया सांसद राजेश रंजन उर्फ यादव ।    

​🔴🔴बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया सांसद राजेश रंजन उर्फ यादव ।🔴🔴

      👈  रणजीत कुमार सुमन “दैनिक खोज खबर “संवाददाता मुरलीगंज, मधेपुरा 👉

गुरुवार को मुरलीगंज प्रखण्ड के विभिन्न बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का जायजा लिया।सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव सांसद ने बाढ़ से घिरे विभिन्न पंचायत और नगर पंचायत में बाढ़ पीड़ितो से मिलकर उनके लिए सांसद मद से पांच जगहो पर तत्तकालीन राहत शिविर लगवाकर गये।

साथ ही पीड़ितो से मिलकर उनके परेशानीयों से रुब बरु हुए। बाढ़ पीड़ितों की समस्याओं के निदान करने का अाश्वासन भी दिया। जोरगामा पंचायत के विभिन्न गली मुहल्लों में बीडीओ ललन कुमार चौधरी को साथ लेकर बाइक से मुअायना करते हुए पीड़ितो से मिले। बढ़ते पानी में तेज रफ्तार होने के बावजूद सांसद ने लोगों से मिलने घर घर पहुंचे। कई बार लोगों ने अधिक पानी में जाने से सांसद को रौका भी लेकिन सांसद नही रुके पानी में पीड़ितों को देखकर ही रुके। मौके पर सांसद राजेश रंजन रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा बाढ़ की वजह से मधेपुरा के विभिन्न प्रखण्डों पर बहुत ज्यादा असर पड़ा है। 

लोगों की  बाढ़ की वजह से त्राहि-त्राहि मचा हुअा हें। कई दिनों से लोगो को भूखे पेट सोना पड़ रहा हैं। लेकिन प्रशासनिक पदाधिकारी सुस्त पड़े हुए है। साथ ही उन्होनें कहा कि बाढ़ के समय नेताओं की असली पहचान होती हैं।जो जनहीत में हमेशा खड़े रहने वालों को जगह भी हमेशा मिलती हैं। 

वही उन्होनें दलालों पर निशाना साधते हुए कहा कि बाढ़ अाने पर उनलोगों की बाहें फुल जाती हैं। लुटेरों के दिन खुल जाते हैं। लोगों के दुख दर्द को दर किनार करते हुए अपने अपने पाकेट भरने में लगे रहते हैं। । का काम राहत साम्रगी  , मुअावजा राशि , गृह क्षति पूर्ती सहिट अन्य साधनों के जरीये लूट करने में लगे रहते है।जिसपर प्रशासन की भी सहभागिता रहती हैं। इस दौरान जाप सांसद नगर प्रतिनिधि  रामजी साह , प्रखंड अध्यक्ष प्रवेश यादव , युवा शक्ति प्रखंड अध्यक्ष प्रशांत यादव , नपं पार्षद बाबा दिनेश मिश्र , पार्षद प्रतिनिधि सुजीत कुमार शास्त्री , डिंपल पासवान , समाजसेवी श्याम अानंद , जोरगामा के मुखिया अभय कुमार गुड्डू ,टिंकल कुमार अंशू भगत , भाषक यादव सहित अन्य सैकड़ो से मिले।

कटिहार :-सैलाब की डर से दहशत में हैं लोग*

🌐​सैलाब की डर से दहशत में हैं लोग⚫🔴🔴

👈तौकीर रजा”दैनिक खोज खबर “कोढ़ा, कटिहार👉

कोढ़ा प्रखंड के कई गांव को पानी ने अपनी चपेट में ले लिया है। लोगों का जीना मुहाल हो गया है। पंचायत उत्तरी सिमरिया, दक्षिण सिमरिया, मधुरा, राजवाड़ा पंचायत के दर्जनों गांवों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर चुके हैं। गौरतलब हो की आए दिन बाढ़ की स्तिथि भयानक रूप ले रहे हैं। आए दिन पानी बढ़ोतरी को लेकर लोग काफी दहशत में नजर आए। वहीं दक्षिण सिमरिया पंचायत के सोनवर्षा गांव को जोड़ने वाली सड़क की स्तिथि प्रतिदिन बद-से-बत्तर होते दिखाई दे रहा है। मुखिया प्रतिनिधि मोहम्मद अजमल ने बताया की हम लोग तक़रीबन पांच दिन से इस सड़क को बचाने का प्रयास कर रहे हैं। किसी तरह से सड़क पानी की कटाव से बच सके, हमलोग अपनी निजी कोष से सड़क में मिट्टी भराई कर रहे हैं। लेकिन पानी का बहाव इतनी तेज है कि सड़क को बचा पाना मुश्किल है। इस गांव में जिधर से देखें पानी ही पानी देखने का नजारा मिलेगा। अगर यह सड़क बाढ़ की चपेट में आया तो क़रीब दो हजार की आबादी वाला यह गांव पूरी तरह से बर्बाद हो जाएगा। यह सोनवर्षा गाँव पंचायत की दो वार्ड है, जो पूरी तरह से बाढ़ की चपेट में आने की कगार पर है। वहीं उत्तरी सिमरिया पंचायत के मुखिया अनारूल हक़ ने बताया कि उत्तरी सिमरिया के कई गांव निवासी बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। पंचायत के तक़रीबन साठ घर में पानी प्रवेश कर चुका है। लोगों के जान-माल का बचना दुश्वार हो गया है। वहीं मधुरा मुखिया प्रतिनिधि ज़ाकिर हुसैन ने बताया कि मधुरा पंचायत के पेकहा देवकली में भी पानी प्रवेश कर चुका है। इस गांव के चारों तरफ पानी ही पानी का नजारा देखने को मिल रहा है।आपको बताते चलूं की जब स्थानीय जनप्रतिनिधि बाढ़ से हो रहे तबाही की सूचना प्रशाशन को दी तो प्रखण्ड विकास पदाधिकारी कोढ़ा अनित कुमार, अंचल अधिकारी परवीन कुमार, मनरेगा के प्रोग्राम पदाधिकारी, कोढ़ा इंस्पेक्टर, कोढ़ा थाना प्रभारी अनुज कुमार, कोलासी नाका प्रभारी अपने दल-बल के साथ मोटरसाइकिल से बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया और पीड़ित परिवार को ऊंचे स्थान पर जाने की नसीहत दी। सब लोग पहले अपने जान माल की हिफाज़त करें फिर सरकार के द्वारा चल रहे बाढ़ राहत का लाभ दिया जाएगा। वहीं साथ मे चल रहे पंचायत सचिव पवन कुमार साह,मुखिया प्रतिनिधि अजमल हुसैन, मुखिया अनारूल हक़, मुखिया प्रतिनिधि ज़ाकिर हुसैन के साथ-साथ सैकड़ों की संख्यां में लोग मौजूद थे। पदाधिकारी और जनप्रतिनिधि सभी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों  का दौरा कर मधुरा पंचायत के पेकहा देवकली के लिए निजी नाव में सवार होकर प्रस्थान कर लिए। राज्य सरकार औऱ जिले के आला अधिकारी इस कोढ़ा प्रखण्ड की ओर भी ध्यान प्रकट करें ताकि अविलंब पीड़ित परिवारों को राहत पहुंच सके।

निजी विद्यालयों द्वारा निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा अधिनियम 2009 की उड़ रही धज्जियां*

*निजी विद्यालयों द्वारा निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा अधिनियम 2009 की उड़ रही धज्जियां*

👈रुपेश कुमार”दैनिक खोज खबर” कटिहार👉

निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा अधिनियम 2009 के लागू होने से आम जनों में आस जगी थी की बच्चों को प्रारंभिक शिक्षा मुफ्त मिलेगी। इसके तहत 25 प्रतिशत सीट पर कमजोर वर्ग के बच्चों के नामांकन संबंधी प्रावधान का अनुपालन नहीं हो रहा है। राज्य सरकार के निर्देश के आलोक में सभी निजी विद्यालय को आरटीई का अनुपालन करने का निर्देश दिया गया है।  जिले के 156 स्वीकृत विद्यालय को आरटीई एक्ट के तहत गरीब, कमजोर वर्ग के 25% बच्चों का दाखिला का रिपोर्ट देना अनिवार्य है।
जो अभिभावक अपने बच्चों को बड़े निजी स्कूलों में पढ़ाने में असमर्थ हैं उन्हें इस अधिनियम का लाभ नहीं मिलने से खासा मायूस दिख रहे हैं। इसके तहत प्रावधान है कि प्रारंभिक शिक्षा को जारी रखने और पूरा करने से रोकने वाले फीस या अन्य खर्चे को अदा करने का उत्तरदायित्व अभिभावकों की नहीं होगी।
आपको बताते चलें कि हमारे यहां राज्य व केंद्र सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन को दरकिनार कर निजी स्कूलों के संस्थापक एनसीईआरटी की सस्ती किताबों की जगह अन्य प्रकाशनों की महंगी किताबें खरीदने के लिए अभिभावकों को मजबूर कर रहे हैं। वह भी बगैर किसी पक्की रसीद के।

गौरतलब हो कि 25 प्रतिशत नामांकन सुनिश्चित कराने के लिए विभाग द्वारा मान्यता प्राप्त निजी विद्यालयों को पत्र प्रेषित किया गया है। इसमें कहा गया है कि गैर सहायता प्राप्त निजी विद्यालय (अल्पसंख्यक को छोड़कर) के प्रवेश कक्षा में 25 प्रतिशत सीट पर एक, तीन व पांच किमी दूरी सीमा तक अभिवंचित समूह व आर्थिक रूप से कमजोर, जिनके परिवार की वार्षिक आय 72 हजार से कम है, के बच्चों का नामांकन किया जाना है। विभिन्न मान्यता प्राप्त निजी विद्यालयों में नामांकन की प्रक्रिया प्रारंभ की गई थी। कुछ विद्यालयों को छोड़कर अधिकांश विद्यालयों की प्रवेश कक्षा में कुल सीट के 25 प्रतिशत आरक्षित सीटों पर शत प्रतिशत नामांकन का लक्ष्य अपूर्ण है। ऐसे विद्यालयों के प्राचार्य को 27 सितंबर तक नामांकन लक्ष्य पूर्ण करने का निदेश दिया गया है।

*नामांकन नहीं लेने पर हो कार्रवाई*

भाजयुमो के प्रखंड अध्यक्ष अनुज कुमार, संजय कुमार मंडल, भाजपा नेता अनिल पासवान ने कहा कि जो निजी विद्यालय इस अधिनियम का पालन नहीं करेगा उस के विरुद्ध कार्रवाई को लिखा जायगा और विभाग से ऐसे स्कूलों की मान्यता रद्द करने पर भी विचार की जायेगी।

​मधेपुरा:-स्वतंत्रता दिवस हरसो वल्लास के मनाया गया।कई जगह सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया ।

​मधेपुरा:-स्वतंत्रता दिवस हरसो वल्लास के मनाया गया।कई जगह सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया ।

 👈  रणजीत कुमार सुमन ”  दैनिक खोज खबर “संवाददाता मुरलीगंज, मधेपुरा 👉

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज प्रखंड व नगर क्षेत्रों में 71 वे स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर विभिन्न सरकारी व गैर सरकारी कार्यालयों और नीजी व सरकारी शिक्षणसंस्थानों में में धुमधाम से तिरंगे को सलामी दी गई साथ साथ बच्चो ने अपना संस्कृति कला भी दिखाए।मंगलवार को सुबह से हीं हर तरफ देश भक्ति गीतों से उल्लासपुर्ण माहौल बना हुआ था। ब्लाॅक में प्रखंड प्रमुख मनोज कुमार साह, नपं कार्यालय में मुख्य पार्षद श्वेतकमल उर्फ बौआ, थाना में थानाध्यक्ष राजेश कुमार,पीएचसी में प्रभारी डॉ संजीव कुमार, बीएल हाई स्कूल में एचएम डॉ रूद्रधर झा नवल, बीआरसी में बीइओ रामगुलाम गुप्ता, झील चौक पर पत्रकार संघ के अध्यक्ष राजा बाबू ने झंडातोलन किया।एमपी पब्लिक स्कूल में झंडतोलन किया गया उसके बाद छात्रों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया था जिसमें स्कूल परिवार के सभी बच्चों तथा बाहर से आये हुए कलाकारों द्वारा अद्भुत कला प्रस्तुत किया गया। बच्चों द्वारा भाषण,कविता,डांस,कॉमेडी,नाटक आदि दिखाया गया। जिसे देख वहाँ उपस्थित अभिभावकगण, ग्रामीण तथा बाहर से आये हुए अतिथिगण खुश होने के साथ साथ गौरवान्वित महसूस कर रहे थे ।मंच का संचालन कर रहे एमपी क्लासेज के डायरेक्टर मिथिलेश कुमार ने बताया कि हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया।उन्होंने बताया कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण बच्चों को बडे स्टेज पे आ कर बोलने और अपने टैलेंट दिखाने की क्षमता के साथ साथ उनमे आत्म्विश्वास आएगी जिससे वो देश विदेश में कभी भी अपना प्रतिभा बिना किसी झिझक के दिखा पाएगा।वही दीनापट्टी सखुआ पंचायत के वृन्दावन गांव में डी के क्लासेज के छात्र छात्रा ने भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया,और सभी छात्र छात्रा को मुख्य अतिथि द्वारा पुरुस्तक्रित किया गया।

हर्षोल्लास के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस, मनरेगा भवन में झंडोत्तोलन नहीं होने से ग्रामीण नाखुश*

*हर्षोल्लास के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस, मनरेगा भवन में झंडोत्तोलन नहीं होने से ग्रामीण नाखुश*

रूपेश कुमार”दैनिक खोज खबर “कटिहार

मंगलवार को भारत का 71वां स्वतंत्रता दिवस समारोह जिले के फलका प्रखंड में भी हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। प्रखंड मुख्यालय में आयोजित इस समारोह में प्रमुख सतीश मंडल ने प्रात: 08:00 बजे ध्वजारोहण कर प्रखंडवासियों को संबोधित किया।

थाना परिसर में 09:00 बजे थनाध्यक्ष रंजीत चौधरी द्वारा झण्डारोहण किया गया।

  • प्रखंड मुख्यालय समीप प्लस टू प्रोजेक्ट कन्या उच्च विद्यालय में प्रधानाध्यापक सुनील कुमार यादव ने ध्वजारोहण किया। आदेश पाल चन्द्रदेव मंडल भी उपस्थित थे। स्कूली छात्राओं ने तिरंगे को सलामी दी तथा विद्यार्थियों को मिठाइयां वितरित की गई।भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में ध्वजारोहण प्रखंड अध्यक्ष शम्भू नाथ चौधरी ने किया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे का मुंह मीठा कराया। इस मौके पर प्रमुख सतीश मंडल, देवेन्द्र, अनुज कुमार, अनिल पासवान, नन्द चौधरी आदि उपस्थित थे।


राजद कार्यालय में ध्वजारोहण विधयिका पूनम पासवान के द्वारा किया गया।

अपूर्वा पब्लिक स्कूल के संचालक अजय जायसवाल ने भी राष्ट्रीय ध्वज का ध्वजारोहण किया। स्कूल के छात्रों ने इस मौके पर देशभक्ति पर आधारित बेहतरीन सास्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस अवसर पर मेजर कपिलदेव, पूर्व मुखिया लाला प्रसाद गुप्ता, पंचायत समिति सदस्य अरुण झा एवं स्कूल के सभी अध्यापकगण मौजूद थे।आपको बताते चलें कि कटिहार जिले के फलका के मनरेगा भवन में मुखिया नुजहत बानो ने झंडोत्तोलन नहीं किया़। ऐसे में ग्रामीण आये और मायूस होकर लौट गये। जानकारी के अनुसार पंचायत रोजगार सेवक राजेश कुमार अपने पिता की बीमारी के कारण छुट्टी पर है। लेकिन पंचायत प्रतिनिधि की जिम्मेवारी होनी चाहिए की मनरेगा भवन में भी स्वतन्त्रता दिवस के अवसर पर झंडोत्तोलन होनी चाहिये। अपना विचार मंच के कोषाध्यक्ष साजन कुमार एवं अन्य ग्रामीणों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी से सबंधित लोगों पर कार्रवाई करने की मांग की है।

« Older Entries