सहरसा : हथियार लैस अपराधियों ने राहगीरों व बरातियों के साथ किया लूटपाट

सिमरी बख्तियारपुर-सहरसा मार्ग के हुसैनचक चौक के समीप तीन बजे सुबह में दिया घटना को अंजाम
पूर्व में हुई दो लूट के आधा दर्जन बदमाशों को पुलिस गिरफ्तार कर भेज चुकी है जेल

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) से ब्रजेश भारती की रिपोर्ट :-

बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के सिमरी बख्तियारपुर-सहरसा सड़क मार्ग के हुसैनचक चौक के समीप शनिवार अहले सुबह करीब तीन बजे के करीब आधा दर्जन राहगीरों के साथ नकाबपोश बदमाशों ने लूटपाट की घटना को अंजाम दिया है।

लूटपाट के दौरान एक एक गाड़ी के नही रोकने पर अपराधियो ने गोली चला दिया, जो गाड़ी के हेडलाइट पर लगा। घटना के बाद पीड़ित ने बख्तियारपुर पुलिस को सूचना दिया। सूचना के बाद घटनास्थल पर पुलिस पहुच मामले की छानबीन की। लूटकांड को लेकर बनमा इटहरी प्रखंड के महारस गांव निवासी माधव सिंह ने थाना में आवेदन दिया है।

घटना के संबंध में पीड़ितों ने बताया कि शुक्रवार की रात तरियामा गांव से स्व बसंत साह के पुत्र मुरारी कुमार की शादी के लिये बाराती सौनवर्षा कचहरी के परविनिया गांव गयी थी। सुबह के करीब तीन बजे वापस गांव लौटने के क्रम में हुसैनचक चौक से आगे पूल के समीप सड़क पर एक लकड़ी का अबरोधक लगा दिया था। सड़क जहा पर अबरोधक लगाया गया था, एक मोटरसाइकिल भी उक्त अबरोधक पर पलटा दिया था। मोटरसाइकिल भी उसने बख्तियारपुर से सहरसा जा रहे एक लोगो से छीना था, एवं उनको मारपीट कर भगा दिया था। उक्त मोटरसाइकिल सवार तीन व्यक्ति थे , तीनो कुछ दूर जाकर सुबह का इंतजार करने के लिये छिप गया। उसके बाद पहली गाड़ी तरियामा गांव निवासी मो सहरयार को रोकने की कोशिश किया। लेकिन मो सहरयार ने वहां की स्थिति को देख साइड से तेजी से निकल गया। गाड़ी की स्पीड को देख अपराधी ने उनके गाड़ी पर गोली चला दिया, जिससे उनके हेडलाइट पर लग गया।

उसके तुरंत बाद बाराती गाड़ी आया। उक्त बाराती गाड़ी को रोककर लुटपाट किया। पहले उक्त गाड़ी के ड्राइवर रंगिनिया गांव निवासी इंद्रजीत पासवान से 500 रुपए नगद एवं एक मोबाइल लूट लिया। उसके बाद उसी बाराती गाड़ी में बैठे तरियामा गांव निवासी विद्यानंद साह के पुत्र रविकांत कुमार 12 वर्ष का चेक किया, लेकिन कुछ नही मिला। राजा कुमार पिता संतोष साह, मोनू कुमार पिता मिथलेश साह था, चूंकि ये बच्चा था,इनके पास रुपये नही था। तरियामा के ही धीरज कुमार 20 वर्ष से 250 रुपये एवं मोबाइल लूट लिया। अजय कुमार पिता इलेक्सन साह से तीन सौ रुपये, वुधन साह से दो हजार रुपए एवं एक मोबाइल लूट लिया। इनके अलावे उक्त गाड़ी में रबेन कुमार पिता अशोक साह भी बेठे थे। उक्त गाड़ी के बाद पीछे से एक डीजे गाड़ी आया। डीजे गाड़ी बनमा ओपी के भगवानपुर गांव निवासी मिथुन यादव चला रहा था। उससे लुटपाट किया। उसी डीजे गाड़ी में महारास गांव के माधव सिंह भी बैठा था। माधव सिंह को पीटकर घायल कर दिया एवं दो मोबाइल, एटीएम, सहित कई कागजात ले लिया। पैसे देने में आनाकानी करने में माधव सिंह का जेब काट लिया। माधवसिंह ने थाना में आवेदन भी दिया है।

इस घटना के बाद पुलिस ने घटना स्थल पर पहुच जांच पड़ताल किया।बख्तियारपुर थानाध्यक्ष रणवीर कुमार ने बताया कि एक आवेदन प्राप्त हुआ है। जिसमे दो मोबाइल एवं कागजात की लूटने की बात है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। बाराती को लुटे जाने का ना तो जानकारी दिया है एवं ना ही कोई आवेदन ही दिया है।

यहां बताते चलें कि बख्तियारपुर पुलिस ने इससे पहले दो लूटकांड जिसमें भटौनी एवं सुगमा शामिल हैं के लुटपाट का उदभेदन कर लूटकांड को अंजाम देने वाले आधा दर्जन बदमाशों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिये जाने के बाद पुलिस चैन की नींद लें ही रही थी कि एक और लूटकांड हो जाने के बाद पुलिस को चुनौती पेश कर दिया है।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s